3 May 2023 Panchang- शुभ-अशुभ मुहूर्त, राहु काल, तिथि, वार, करण, योग, नक्षत्र और चौघड़िया जानिए

1137
3 May Panchang

3 May 2023 Panchang- पंचांग पांच अंगों से मिलकर बना हैं और वह पांच अंग हैं- नक्षत्र, तिथि, योग, करण और वार जिसकी मद्त से हमें यह ज्ञात होता हैं कि कौन-कौन सा समय शुभ हैं साथ ही कौन-कौन सा समय अशुभ हैं जिसके लिए पंचांग का इस्तेमाल किया जाता हैं।

आज का पंचांग हमारे हिन्दू धर्म में किसी भी विशेष कार्यक्रम को करने से पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं चाहें कोई नया व्यवसाय शरू करना हो या शादी-विवाह जैसे मंगल कार्य हो या फ़िर कोई विशेष त्यौहार, व्रत, उत्सव व समारोह इत्यादि सभी के लिए पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं तो चलिए आज का 3 May 2023 Panchang क्या रहेगा देखतें हैं।

3 May Panchang

हर दिन का पंचांग सबसे पहले देखने के लिए आप हमारी वेबसाइट को Add To Home करें जिसे यह App की तरह काम करेगें और हर रोज सबसे पहले आज का पंचांग देखने के लिए हमारे फेसबुक पेज और टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन करें।

Facebook Telegram

3 May 2023 Panchang क्या हैं

Aaj Ka Panchang
सूर्योदय का समय- 
05:39 AM
सूर्यास्त का समय-  06:57 PM
चंद्रोदय का समय-  04:45 PM
चंद्रास्त का समय–  04:40 AMमई 04
वार- बुधवार

तिथि जिसे दिनांक या तारीख़ कहा जाता हैं एक माह में दो पक्ष होते हैं औऱ प्रत्येक पक्ष में पंद्रह तिथियां होती है कृष्ण पक्ष की पहली तिथि को कृष्ण प्रतिपदा औऱ अंतिम तिथि आमवस्या होती हैं और शुक्ल पक्ष की पहली तिथि शुक्ल प्रतिपदा और अंतिम तिथि पूर्णिमा होती है।

– तिथि –
त्रयोदशी – 23:51:31 तक

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 27 नक्षत्र होते हैं और प्रत्येक नक्षत्र एक विशिष्ट तारे या तारों के समूह से जुड़ा होता है जिसका उपयोग महत्वपूर्ण कार्यक्रमों के लिए शुभ मुहूर्त देखने के लिए किया जाता है।

– नक्षत्र –
हस्त – 20:56:51 तक

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 27 योग भी होते हैं और और प्रत्येक की अपनी विशेषताएं व प्रभाव होते हैं साथ ही “योग” एक निश्चित समय पर सूर्य और चंद्रमा की स्थिति के विशिष्ट संयोजन को संदर्भित करता है।

– योग –
हर्शण – 11:26:37 तक

एक माह में 30 तिथियां होती हैं और एक तिथि के आधे भाग को करण कहते हैं मतलब एक तिथि में दो करण होते है जिसे एक माह में कुल करण की संख्या 60 होती है।

– करण –
कौलव – 11:40:26 तक
तैतिल – 23:51:31 तक

3 May 2023 का शुभ-अशुभ मुहूर्त

पंचांग द्वारा हमें विभिन्न गतिविधियों को करने के लिए शुभ और अशुभ मुहूर्त की जानकारी प्राप्त होती है शुभ मुहूर्त वह होता है जोकि किसी विशेष कार्य को करने के लिए अनुकूल माना जाता है और उस समय में किए गए कार्य में सफलता प्राप्त होने की संभावना अधिक होती है जबकि अशुभ मुहूर्त में किए गए कार्यों में बाँधा या रुकावट पढ़ती है इसलिए आमतौर पर इस समय से बचा जाता है।


3 May 2023 Panchang- शुभ मुहूर्त


ब्रह्म मुहूर्त- 04:13 AM से 04:56 AM

प्रातः सन्ध्या- 04:35 AM से 05:39 AM

अभिजित मुहूर्त- नहीं!!!

विजय मुहूर्त- 02:31 PM से 03:24 PM

गोधूलि मुहूर्त- 06:56 PM से 07:17 PM

सायाह्न सन्ध्या- 06:57 PM से 08:01 PM

अमृत काल- 02:38 PM से 04:19 PM

निशिता मुहूर्त- 11:56 PM से 12:39 AM, मई 04


3 May 2023 Panchang- अशुभ मुहूर्त


राहुकाल- 12:18 PM से 01:58 PM

यमगण्ड- 07:19 AM से 08:59 AM

गुलिक काल- 10:38 AM से 12:18 PM

विडाल योग- 08:56 PM से 05:38 AM, मई 04

वर्ज्य- 05:09 AM, मई 04 से 06:48 AM, मई 04

दुर्मुहूर्त- 11:52 AM से 12:45 PM


3 May 2023 Choghadiya 

दिन का चौघड़िया

मुहूर्त समय
लाभ 05:38:34 AM – 07:18:24 AM
अमृत 07:18:24 AM – 08:58:13 AM
काल 08:58:13 AM – 10:38:002 AM
शुभ 10:38:002 AM – 12:17:52 PM
रोग 12:17:52 PM – 01:57:41 PM
उद्वेग 01:57:41 PM – 03:37:30 PM
चर 03:37:30 PM – 05:17:19 PM
लाभ 05:17:19 PM – 06:57:009 PM

रात का चौघड़िया

मुहूर्त समय
उद्वेग 06:57:009 PM – 08:17:19 PM
शुभ 08:17:19 PM – 09:37:30 PM
अमृत 09:37:30 PM – 10:57:41 PM
चर 10:57:41 PM – 12:17:52 AM
रोग 12:17:52 AM – 01:38:002 AM
काल 01:38:002 AM – 02:58:13 AM
लाभ 02:58:13 AM – 04:18:24 AM
उद्वेग 04:18:24 AM – 05:38:34 AM

 3 May 2023 Ka Panchang

आज का पंचांग मुहूर्त हमारे हिन्दू धर्म में किसी भी विशेष कार्यक्रम को करने से पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं चाहें कोई नया व्यवसाय शरू करना हो या शादी-विवाह जैसे मंगल कार्य हो या फ़िर कोई विशेष त्यौहार, व्रत, उत्सव व समारोह इत्यादि सभी के लिए पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं जिसके लिए पंचांग का इस्तेमाल किया जाता हैं इसलिए पंचांग का हर विशेष कार्यक्रम में ख़ास महत्व होता हैं।

[sp_easyaccordion id=”357″]

पंचांग एक पारंपरिक हिंदू कैलेंडर है जिसका उपयोग विभिन्न गतिविधियों और घटनाओं के लिए शुभ और अशुभ अवधियों को निर्धारित करने के लिए किया जाता है जिसे पंचांग के रूप में भी जाना जाता है ऐसा माना जाता है जब ग्रहों की स्थिति अनुकूल होती है तो सकारात्मक प्रभाव ला सकती है। ऐसा माना जाता है कि पंचांग के मार्गदर्शन का पालन करके व्यक्ति बाधाओं से बच सकता है और अपने प्रयासों में सफलता सुनिश्चित कर सकता है।

उम्मीद है की यह जानकारी आपके लिए लाभदायक रही होगी इसलिए इसे केवल एक व्यक्ति के साथ जरूर शेयर करे ताकि उनके जीवन में भी मदतगार रहे और हर रोज सबसे पहले Aaj Ka Panchang देखने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करे और साथ ही टेलीग्राम चैनल को भी ज्वाइन करे उसके लिए यहाँ क्लिक करें।  

Previous article2 May 2023 Panchang- शुभ-अशुभ मुहूर्त, राहु काल, तिथि, वार, करण, योग, नक्षत्र और चौघड़िया जानिए
Next article4 May 2023 Panchang- शुभ-अशुभ मुहूर्त, राहु काल, तिथि, वार, करण, योग, नक्षत्र और चौघड़िया जानिए
Parjapati
Don’t underestimate the power of the Panchang. By consulting this ancient guide, you can ensure that your actions are aligned with the cosmic energies of the universe, leading to greater success and happiness in all areas of your life. So start your day off right with Today Panchang, your daily dose of Hindu astrology and calendar.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here