Panchang- आज का पंचांग क्या है देखें

Today Panchang & Aaj Ka Panchang- आज के दिन का शुभ-अशुभ समय पता करें जैसे सूर्योदय व सूर्यास्त का समय, शुभ-अशुभ मुहर्त, राहु काल इत्यादि की जानकारी प्राप्त करें

Panchang 1 April 2021- आज का पंचांग मुहूर्त हमारे हिन्दू धर्म में किसी भी विशेष कार्यक्रम को करने से पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं चाहें कोई नया व्यवसाय शरू करना हो या शादी-विवाह जैसे मंगल कार्य हो या फ़िर कोई विशेष त्यौहार, व्रत, उत्सव व समारोह इत्यादि सभी के लिए पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं जिसके लिए पंचांग का इस्तेमाल किया जाता हैं।

इसलिए पंचांग का हर विशेष कार्यक्रम में ख़ास महत्व होता हैं जिसकी मद्त से हमें यह ज्ञात होता हैं कि कौन दिन कितना शुभ हैं एवं कौन-कौन सा समय शुभ हैं साथ ही कौन दिन कितना अशुभ हैं एवं कौन-कौन सा समय अशुभ हैं!! औऱ बिना पंचांग देखें बिना किसी भी नये एवं शुभ काम को नही किया जाता हैं।

today panchang aaj ka panchang in hindi me

Panchang 1 April 2021 के जरिये आप शुभ व अशुभ समय का पता लगा सकते हैं जिसे आपके द्वारा किये गए कार्यक्रम को सफलता प्राप्त हो औऱ हर दिन का पंचांग सबसे पहले देखने के लिए आप हमारी वेबसाइट को Add To Home करें जिसे यह App की तरह काम करेगें औऱ हमारे फेसबुक पेज और टेलीग्राम चैनल पर क्लिक करके ज्वाइन करें।

Facebook Page Telegram Join

Today Panchang- Delhi

⇐Prev Today Next⇒

Panchang 1 April 2021

आज की तिथि – 1 April 2021
सूर्योदय का समय-  06:10:49
सूर्यास्त का समय-  18:38:56
चंद्रोदय का समय-  22:49:47
चंद्रास्त का समय–  08:44:03
तिथि: कृष्ण पंचमी
नक्षत्र: अनुराधा
करण:- कौलव
पक्ष: कृष्ण पक्ष
योग: सिद्धि 26:45:52
वार: गुरुवार
शक सम्वत 1942
विक्रमी संवत् 2077
अमांत फाल्गुन
पूर्णिमांत चैत्र

Panchang 1 April 2021 – शुभ मुहूर्तः


अभिजीत मुहूर्त – 12:00 PM से लेकर 12:49 PM

अमृत काल – 07:48 PM से लेकर 09:15 PM

ब्रह्म मुहूर्त – 04:38 AM से लेकर 05:26 AM


Panchang 1 April 2021 – अशुभ मुहूर्तः


राहू – 1:57 PM से लेकर 3:30 PM

यम गण्ड – 6:15 AM से लेकर 7:47 AM

कुलिक – 9:20 AM से लेकर 10:52 AM

दुर्मुहूर्त – 10:21 AM से लेकर 11:10 AM


दुर्मुहूर्त – 03:17 PM से लेकर 04:06 PM

वर्ज्यम् – 10:33 AM से लेकर 12:03 PM


Panchang 1 April 2021 Hindi

पंचांग के जरिये आप हर दिन के शुभ व अशुभ समय का पता लगा सकते हैं जिसे आपके द्वारा किये गए कार्यक्रम को सफलता प्राप्त हो इसलिए पंचांग का हमारे जीवन मे महत्व होता हैं!

उम्मीद है की आज का पंचांग मुहूर्त की जानकारी आपके लिए लाभदायक रही होगी इसलिए इसे केवल एक व्यक्ति के साथ जरूर शेयर करे ताकि उनके जीवन में भी मदतगार रहे और हर रोज सबसे पहले Aaj Ka Panchang 2021 देखने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करे और साथ ही टेलीग्राम चैनल को भी ज्वाइन करे उसके लिए यहाँ क्लिक करें

We Indians do not start any of our work without getting clues from the Panchang This is the tradition in India to watch the Today Panchang before doing any fruitful work.

Panchang meaning five Limbs because it is made up of five Limbs and those five Limbs are as follows – Nakshatra, Tithi, Yoga, Karan, and Var, help to which we know which days or Time are auspicious and as well as which days or Time inauspicious !!

Through Panchang you can find out the auspicious and inauspicious times of every day which makes the program done by your success so the Panchang has importance in our life so let’s see the Today Panchang

To see every day’s Today Panchang first you to Add To Home in this website which will work like an app and join us our Facebook Page and Telegram Channel at the click.

Facebook Page Telegram Join

आज का पंचांग क्या है

Aaj Ka Panchang – हमारे हिन्दू धर्म में किसी भी विशेष कार्यक्रम को करने से पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं चाहें कोई नया व्यवसाय शरू करना हो या शादी-विवाह जैसे मंगल कार्य हो या फ़िर कोई विशेष त्यौहार, व्रत, उत्सव व समारोह इत्यादि सभी के लिए पहले शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं जिसके लिए पंचांग(Panchang) का इस्तेमाल किया जाता हैं।

इसलिए पंचांग का हर विशेष कार्यक्रम में ख़ास महत्व होता हैं औऱ बिना पंचांग देखें बिना किसी भी नये एवं शुभ काम को नही किया जाता हैं औऱ भारतवर्ष में यह मान्यता बहुत पुरानी हैं।

पंचांग का मतलब है पांच अंग क्योंकि यह पांच अंगों से मिलकर बना हैं और वह पांच अंग इस प्रकार हैं- नक्षत्र, तिथि, योग, करण और वार जिसकी मद्त से हमें यह ज्ञात होता हैं कि कौन दिन कितना शुभ हैं एवं कौन-कौन सा समय शुभ हैं साथ ही कौन दिन कितना अशुभ हैं एवं कौन-कौन सा समय अशुभ हैं!!

पंचांग के जरिये आप हर दिन के शुभ व अशुभ समय का पता लगा सकते हैं जिसे आपके द्वारा किये गए कार्यक्रम को सफलता प्राप्त हो इसलिए पंचांग का हमारे जीवन मे महत्व होता हैं

Aaj Ka Panchang

किसी भी नये कार्य एवं शुभ काम को करने के लिए शुभ और अशुभ समय का पता लगाने के लिए पंचांग(Panchang) का सहारा लिया जाता हैं पंचांग में नक्षत्र, तिथि, योग, करण और वार पांच अंग होते हैं औऱ यह आपको वर्तमान दिन की सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करता हैं इसलिए इसे हिन्दू कैलेंडर भी कहा जाता है जिसे आपको निम्नलिखित जानकारी मिलती हैं।

आज कौनसी तिथि है? आज वार कौनसा है?
चंद्रमा राशि-नक्षत्र में हैं? चंद्रमा का प्रभाव?
सूर्योद्य का क्या समय है? सूर्यास्त का क्या समय है?
चंद्रोद्य कब हो रहा है? कौनसा पक्ष चल रहा है?
करण क्या है? योग क्या बन रहे हैं?
माह कौनसा चल रहा है? सूर्य राशि क्या बन रही है?
सूर्य किस नक्षत्र में हैं? ऋतु कौनसी चल रही है?
माह कौनसा है? शुभसमय-शुभकाल क्या है?
अशुभ-समय कब तक है? अयन क्या है?

तिथि

तिथि जिसे दिनांक या तारीख़ कहा जाता हैं एक माह में दो पक्ष होते हैं औऱ प्रत्येक पक्ष में पंद्रह तिथियां होती है कृष्ण पक्ष की पहली तिथि को कृष्ण प्रतिपदा औऱ अंतिम तिथि आमवस्या होती हैं और शुक्ल पक्ष की पहली तिथि शुक्ल प्रतिपदा और अंतिम तिथि पूर्णिमा होती है।

वार

वैदिक ज्योतिष के अनुसार एक सप्ताह में साथ वार यानी दिन होते हैं जो इस प्रकार हैं सोमवार, मंगलवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, शनिवार एवं रविवार!

नक्षत्र

विज्ञान में अपने नक्षत्र नाम सुना होगा नहीं सुना तो हम आपको बता दे कि तारों के समहू को नक्षत्र कहा जाता हैं और ज्योतिष शस्त्रों में इनकी सँख्या 27 होती है जो इस प्रकार है

1. अश्विनी 2. भरणी
3. कृतिका 4. रोहिणी
5. मृगशिरा 6. आर्द्रा
7. पुनर्वसु 8. पुष्य
9. अश्लेषा 10. मघा
11. पूर्वा फाल्गुनी 12. उत्तरा फाल्गुनी
13. हस्त 14. चित्रा
15. स्वाती 16. विशाखा
17. अनुराधा 18. ज्येष्ठा
19. मूल 20. पूर्वाषाढ़ा
21. उत्तराषाढा 22. श्रवण
23. धनिष्ठा 24. शतभिषा
25. पूर्वाभाद्रपद 26. उत्तरभाद्रपद
27. रेवती

योग

हिन्दू ज्योतिषियों के अनुसार योग की संख्या 27 होती है जो इस प्रकार है

1. विष्कुम्भ 2. प्रीति
3. आयुष्मान 4. सौभाग्य
5. शोभन 6. अतिगण्ड
7. सुकर्मा 8. धृति
9. शूल 10. गण्ड
11. वृद्धि 12. ध्रुव
13. व्याघात 14. हर्षण
15. वज्र 16. सिद्धि
17. व्यातीपात 18. वरीयान
19. परिघ 20. शिव
21. सिद्ध 22. साध्य
23. शुभ 24. शुक्ल
25. ब्रह्म 26. इन्द्र
27. वैधृति

करण

एक माह में 30 तिथियां होती हैं और एक तिथि के आधे भाग को करण कहते हैं मतलब एक तिथि में दो करण होते है जिसे एक माह में कुल करण की संख्या 60 होती है।

पंचांग का महत्व

1. यह आपको हर रोज का शुभ और अशुभ मुहूर्त की जानकारी प्रदान करता है।

2. पंचाग की सहायता से आप अपने महत्वपूर्ण कार्यों को शुभ मुहूर्त के अनुसार कर सकते हैं।

3. आप अपने महत्वपूर्ण कार्यों को अशुभ मुहूर्त देखकर कुछ समय के लिए रोक सकते हैं।

4. शुभ मुहूर्त में किये गए कार्यों में आपको सफलता प्राप्त के अवसर बढ़ जाते हैं इसलिए विशेष कार्यक्रम को शुभ मुहूर्त के अनुसार किया जाता है।

5. पंचाग की सहायता से आप बुरे प्रभावों को कम कर सकते हैं औऱ सफलता के मार्ग की ओर बढ़ते है।

Today Panchang in English

To do any work precisely or to get the 100 percent result we get support from the Panchang, It can provide us the all information about the day’s good and the bad time formations. Panchang is also known as the Hindu calendar and it provides us the following information’s:

The tithi of the day
The vaar of the day
The effect of the moon
The time of Sunrise
The time of Sunset
What is Karn?
The time of Chandrodaya
Which Pakahsa is going on?
The yoga formation during the day.
about the Purnimath month or Amant Month
which Rashi or Nakshatra Sun is moving on
The position of the moon in the Rashi or nakshatra
Tells us about the season and the Best and the Worst time of the day

Tithi 

Tithi is also known as the Dinak or Tarikh. There is two Paksha in one month and each paksha has 15 tithi The first tithi of krishana paksha is known as Krishna Partipada or the last date is known as Amavasya and the first day of the Shukla paksha is Shakul Partipada and the last is known as Purnima.

Vaar

According to Vedic Astrology, there are seven days in a week know as vaar, these are as following Sunday, Monday, Tuesday, Wednesday, Thursday, Friday, and Saturday.

Nakshatra

You may have heard the name Nakshrata in science, If not then we are telling you the group of stars is known as the nakshatra and in the Vedic astrology they are 27 in numbers.

 Ashwini  Bharani
 Krtika  Rohini
 Mrgashira  Aardra
 Punarvasu  Pushy
 Ashlesha Magha
Poorva Phaalguni  Uttara Phaalguni
 Hast  Chitra
 Svaati  Vishaakha
Anuraadha  Jayanti
 Mool  Poorva shaadhan
 Heera shaadha  Shravan
 Dhanishtha Shatabhisha
Poorva Bhaadrapad  Uttara Bhaadrapad
 Revati

Yoga

According to Hindu Astrology, the number of yoga is 27 and they are as following:

Vishkumbh Preeti
Aayushmaan Saubhaagy
Shobhan Atigand
Sukarma Dhrti
Shool Gand
Vrddhi Dhruv
Vyaaghaat Harshan
Vajr Siddhi
Vyaateepaat Vareeyaan
Parigh Shiv
Siddh Saadhy
Shubh Shukl
Brahm Indr
Vaidhrti

Karan

In a month there are 30 days and a half part of a tithi is known as Karn it means that in a tithi there 2 Karnas and in this way there are 60 karns in a month.

Today Choghadiya Panchang

-आज का चौघड़िया शुभ मुहूर्त देखें

Importance of Today Panchang 

1. It provides you the information about the best and worst time of the day.

2. Now you can do your work on the best available time of the day with the help of Today Panchang.

3. Now you can avoid working on the worst part of the day.

4. Doing the work at the best available time have the probability of more success.

5. You can limit the effects of a bad time in your life and way towards success in your life.

Hopefully, this information Today Panchang will be beneficial for you, so make sure to share it with only one person so that their lives are also favorable To see every day’s Panchang first you to Add To Home in this website which will work like an app and join us our Facebook Page and Telegram Channel at the click

Previous articlePanchang 28 March 2021- आज का पंचांग
Next articleChoghadiya- आज का चौघड़िया देखें