Choghadiya- आज का चौघड़िया देखें

Today Choghadiya & Aaj Ka Choghadiya- आज के दिन का शुभ-अशुभ समय पता करें जैसे सूर्योदय व सूर्यास्त का समय, शुभ-अशुभ मुहर्त, दिन और रात का चौघड़िया इत्यादि की जानकारी प्राप्त करें

5 February 2021 Choghadiya- आज का चौघड़िया मुहूर्त किसी भी शुभ कार्य को करते वक़्त या फिर करने से पहले शुभ मुहूर्त औऱ शुभ लग्न को देख जाता है ताकी उस कार्य में सफलता मिलें इसके लिए वार, तिथि, माह, वर्ष लग्न, मुहूर्त, योग, नक्षत्र इत्यादि को देखा जाता है जिसके लिए चौघड़िया का इस्तेमाल किया जाता है।

चौघड़िया का इस्तेमाल दिन या रात्रि में पूजा के लिए शुभ मुहूर्त देखने के लिए किया जाता हैं हालांकि परम्परागत रूप से चौघड़िया का इस्तेमाल यात्रा के लिए शुभ मुहूर्त के लिए किया जाता था लेक़िन अन्य शुभ मुहूर्त देखने मे भी इसका इस्तेमाल होता है ज्योतिषियों के अनुसार चौघड़िया मुहूर्त देखकर कार्य करना उत्तम होता है।

Today Choghadiya aaj ka Choghadiya5 February 2021 Choghadiya के जरिये आप आज का चौघड़िया मुहूर्त पता लगा सकते हैं हर दिन का पंचांग व चौघड़ियासबसे पहले देखने के लिए आप हमारी वेबसाइट को Add से लेकर Home करें जिसे यह App की तरह काम करेगें औऱ हमारे फेसबुक पेज और टेलीग्राम चैनल पर क्लिक करके ज्वाइन करें।

Facebook Page Telegram Join
Today Choghadiya- New Delhi
<<Prev Today Next>>

5 February 2021 Choghadiya

आज की तिथि – 5 February 2021
सूर्योदय का समय-  07:06:35
सूर्यास्त का समय-  18:03:09
चंद्रोदय का समय-  00:55:07
चंद्रास्त का समय–  12:07:25
शक सम्वत 1942
विक्रमी संवत् 2077
तिथि: कृष्ण नवमी
नक्षत्र: विशाखा
करण:- तैतिल
पक्ष: कृष्ण पक्ष
योग: वृद्धि till 19:19:13
वार: शुक्रवार

5 February 2021 Choghadiya- दिन

मुहूर्त समय
चर 06:53:55 – 08:16:01
लाभ 08:16:01 – 09:38:07
अमृत 09:38:07 – 11:00:12
काल 11:00:12 – 12:22:18
शुभ 12:22:18 – 13:44:24
रोग 13:44:24 – 15:06:29
उद्वेग 15:06:29 – 16:28:35
चर 16:28:35 – 17:50:40

5 February 2021 Choghadiya- रात

मुहूर्त समय
रोग 17:50:40 – 19:28:35
काल 19:28:35 – 21:06:29
लाभ 21:06:29 – 22:44:24
उद्वेग 22:44:24 – 24:22:18
शुभ 24:22:18 – 26:00:12
अमृत 26:00:12 – 27:38:07
चर 27:38:07 – 29:16:01
रोग 29:16:01 – 06:53:55
<<Prev Today Next>>

Aaj Ka Choghadiya 5 February 2021 

हर दिन का पंचांग व चौघड़िया सबसे पहले देखने के लिए आप हमारी वेबसाइट को Add To Home करें जिसे यह App की तरह काम करेगें औऱ हमारे फेसबुक पेज और टेलीग्राम चैनल पर क्लिक करके ज्वाइन करें।

उम्मीद है की 5 February 2021 Choghadiya जानकारी आपके लिए लाभदायक रही होगी इसलिए इसे केवल एक व्यक्ति के साथ जरूर शेयर करे ताकि उनके जीवन में भी मदतगार रहे और हर रोज सबसे पहले Aaj Ka Choghadiya 2021 देखने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करे और साथ ही टेलीग्राम चैनल को भी ज्वाइन करे उसके लिए यहाँ क्लिक करें

Choghadiya is used to observe auspicious time for worship in day or night although traditionally Choghadiya was used for auspicious time for traveling but it is also used to see other auspicious time.

According to astrologers, it is best to work by looking at the Choghadiya Muhurta, what is the Choghadiya of today, as well as information about what will be the auspicious and inauspicious time of today

Facebook Page Telegram Join

आज का चौघड़िया क्या हैं

चौघड़िया पंचांग हिन्दू वैदिक कैलेंडर का एक रूप या अंग हैं जिसमें हर रोज के लिए वार, तिथि, माह, वर्ष लग्न, मुहूर्त, योग, नक्षत्र इत्यादि दिए जाते हैं जोकि किसी शुभ कार्य के लिए कोई शुभ मुहूर्त नहीं निकल रहा हो या किसी कार्य को शीघ्रता से शरू करने के लिए या फ़िर परम्परागत रूप यात्रा के लिए शुभ मुहूर्त देखने के लिए किया जाता था।

एक वर्ष के दो हिस्से होते हैं जिसे उत्तररायण और दक्षिणायन कहा जाता है उसी प्रकार एक माह में दो पक्ष होते है एक कृष्ण पक्ष औऱ दूसरा शुक्ल पक्ष इसी प्रकार एक दिन के भी दो हिस्से होते है एक दिन और दूसरा रात!

Today Choghadiya

अब सूर्योदय और सूर्यास्त के बीच के समय को दिन का चौघड़िया कहा जाता है तथा सूर्यास्त और अगले दिन तक सूर्योदय के बीच के समय को रात्रि का चौघड़िया कहा जाता है चूँकि हर दिन को कुछ समय अवधि अच्छी और कुछ समय अवधि बुरी होती है और प्रत्येक दिन के शुभ व अशुभ मुहूर्त को चौघड़िया तालिका में दर्शाया जाता हैं।

सूर्योदय से सूर्यास्त तक और सूर्यास्त से सूर्योदय तक के समय को 30-30 घटी में बांटा गया हैं और 30 घटी को 8 भागों में बांटा गया है जिसके परिणामस्वरूप दिन व रात में 8-8 चौघड़िया मुहूर्त होते हैं एक घटी का समय लगभग 24 मिनट तथा एक चौघड़िया का समय लगभग 96 मिनट होता है।

क्योंकि एक Choghadiya(चौघड़िया) का समय 4 घटी के बराबर होता है इसलिए इसे चौघड़िया नाम से जाना जाता है सामान्य रूप से अच्छे चौघड़िया शुभ, चंचल, अमृत और लाभ के माने जाते हैं तथा बुरे चौघड़िया उद्वेग, रोग और काल के माने जाते हैं।

Aaj Ka Choghadiya

चौघड़िया पंचांग हिन्दू वैदिक कैलेंडर का एक रूप या अंग हैं जिसमें हर रोज के लिए अमृत, रोग, लाभ, शुभ, चर, काल, उद्वेग इत्यादि दिए जाते हैं जब किसी शुभ कार्य के लिए कोई शुभ मुहूर्त नहीं निकल रहा हो या किसी कार्य को अचानक व शीघ्रता से शरू करने के लिए शुभ मुहूर्त देखने के लिए किया जाता था।

उद्वेग चौघड़िया

चौघड़िया में उदवेग प्रथम मुहूर्त है जिसका स्वामी ग्रह सूर्य है इस घड़ी में प्रशासनिक कार्य करने पर उचित परिणाम मिलने के कम आसार होते हैं क्योंकि इसमें सूर्य के प्रभाव होते है और ज्योतिष में सूर्य के प्रभाव को अशुभ माना गया है।

लाभ चौघड़िया

इस मुहूर्त का स्थान चौघड़िया में द्वितीय है औऱ बुध ग्रह इसका स्वामी ग्रह है तथा बुध ग्रह शुभ व लाभदायक माना जाता है इस समय पर व्यावसायिक और शिक्षा से जुड़े कार्य करने पर उचित परिणाम मिलते हैं।

चर चौघड़िया

चर का सम्बंध शुक्र ग्रह से है और शुक्र ग्रह को शुभ व लाभकारी ग्रह माना जाता है इसका स्थान चौघड़िया में तृतीय है तथा इस मुहूर्त में यात्रा और पर्यटन करना उत्तम माना जाता है।

रोग चौघड़िया

इस मुहूर्त का चौघड़िया में चौथा स्थान है औऱ इसका स्वामी ग्रह मंगल है जिसे एक क्रूर व अनिष्टकारी माना जाता हैं इसलिए यह रोग कहा गया है औऱ इस समय शुभ काम नही करने चाहिए।

शुभ चौघड़िया

इस मुहूर्त का स्वामी ग्रह बृहस्पति ग्रह है और यह समय शुभ कार्यों को करने के लिए उत्तम है इसलिए इस घड़ी में विवाह, पूजा, यज्ञ करवाने पर शुभफल प्राप्त होता है तभी इसे शुभ का नाम दिया गया है।

काल चौघड़िया

इस घड़ी पर शनि का स्वामित्व है और काल का सीधा संबंध अंत से हैं यह पापी ग्रह है इसलिए इसे काल के रूप में चिन्हित किया गया है। काल मुहूर्त में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है औऱ ज्योतिष भी इस मुहूर्त में किसी भी तरह का कार्य करने से मना करते हैं।

अमृत चौघड़िया

यह चौघड़िया का अंतिम मुहूर्त है जिसपर पर चंद्रमा का स्वामित्व है और चंद्रमा शुभ व लाभकारी ग्रह होता है और अमृत मुहूर्त में कोई भी कार्य करने पर अच्छा परिणाम मिलता है।

Today Choghadiya in English

Choghadiya Panchang is a form or part of the Hindu Vedic calendar in which the war, date, month, year lagna, muhurta, yoga, nakshatra etc. are given for everyday, which is not auspicious for any auspicious work or any The work was done to start the work quickly or to see the auspicious time for the traditional journey again.

There are two parts of a year which are called Uttararayana and Dakshinayan. Similarly, there are two sides in a month, one is Krishna Paksha and the other is Shukla Paksha. Similarly, there are two parts of a day, today and the other night!

Now the time between sunrise and sunset is called Choghadiya of the day and the time between sunset and sunrise till the next day is called Choghadiya of night as every day has some time period good and some time period is bad and each The auspicious and inauspicious Muhurat of the day is shown in the Choghadiya table.

The time from sunrise to sunset and from sunset to sunrise are divided into 30-30 Ghadi and 30 Ghadi is divided into 8 parts resulting in 8-8 Choghadiya Muhurats in day and night time of one hour is about 24 minutes. And the time of a Choghadiya is about 96 minutes.

Since the time of a Choghadiya is equal to 4 Ghadies, it is known by the name of Choghadiya. In general, good Choghadiya is considered to be auspicious, char, amrit and labh and bad Choghadiya is considered to be of udveg, rog and kaal.

About Choghadiya

Choghadiya Panchang is a form or part of the Hindu Vedic calendar in which amrit, rog, labh, auspicious, char, kal, udveg, etc. are given for everyday when no auspicious time is coming out for any auspicious work or any work Suddenly and quickly it was done to see the auspicious time to start.

Udveg Choghadiya

Udveg is the first Muhurta in Choghadiya whose lord planet is Sun. There is less chance of getting proper results when doing administrative work in this time because it has effects of Sun and in astrology the effect of Sun is considered inauspicious.

Labh Choghadiya

The place of this Muhurta is second in Choghadiya and Mercury planet is its lord planet and Mercury planet is considered auspicious and beneficial, at this time, if you do business and education related work then you get proper results.

Char Choghadiya

The variable is related to the planet Venus and the planet Venus is considered to be auspicious and beneficial planet, its location is third in Choghadiya and it is considered best to travel and travel in this Muhurta.

Rog Choghadiya

This Muhurta has fourth place in Choghadiya and its lord planet is Mars which is considered to be a cruel and malicious, hence this disease has been said and should not do auspicious work at this time.

Shubh Choghadiya

The planet Jupiter is the lord of this Muhurta and this time is best for performing auspicious tasks, so in this hour auspicious results are obtained on marriage, worship, and yajna, only then it is named auspicious.

Kaal Choghadiya

Saturn is owned by this watch and Kaal is directly related to the end, it is a sinful planet, so it has been marked as Kaal. No auspicious work is done in Kaal Muhurta and astrology also refuses to do any kind of work in this Muhurta.

Amrit Choghadiya

This is the last Muhurta of Choghadiya which is owned by the Moon and the Moon is auspicious and beneficial planet and any work done in Amrit Muhurta gives good results.

To see every day’s Today Choghadiya first you to Add To Home in this website which will work like an app and join us our Facebook Page and Telegram Channel at the click

Hopefully, this information Choghadiya will be beneficial for you, so make sure to share it with only one person so that their lives are also favorable To see every day’s Panchang first you to Add To Home in this website which will work like an app and join us our Facebook Page and Telegram Channel at the click..

Previous articlePanchang- आज का पंचांग क्या है देखें
Next articlePanchang 2 April 2021- आज का पंचांग